top of page

आज का पंचांग दिनांक 22 जुलाई 2024 👉 दिन - (सोमवार) 👈

Today Panchang

Aaj Ka Panchang जानें आज का शुभ मुहूर्त

⛅ विक्रम संवत - 2081
⛅ शक संवत - 1946
⛅ अयन - दक्षिणायन
⛅ ऋतु - वर्षा
⛅ मास - श्रावण 

⛅ पक्ष - शुक्ल

👉 तिथि - प्रतिपदा तिथि अपराह्न 01 बजकर 12 मिनट तक उपरांत द्वितीया

👉 नक्षत्र- श्रवण नक्षत्र रात्रि 10 बजकर 21 मिनट तक उपरांत धनिष्ठा
👉 योग - प्रीति योग सायं 05 बजकर 58 मिनट तक उपरांत आयुष्मान

👉 करण - कौलव करण अपराह्न 01 बजकर 12 मिनट तक उपरांत गर

🌞 सूर्योदय का समय: 22 जुलाई: प्रात: 05:21 बजे
🌞 सूर्यास्त का समय: 22 जुलाई: सायं 07:17 बजे

🌙  चन्द्रमा दिन रात मकर राशि पर संचार करेगा।

👉 व्रत/त्यौहार: 🙏🌹श्रावण सोमवार व्रत प्रारंभ🌹🙏
🌞 दिशाशूल: उत्तर दिशा में

👉 आज का शुभ मुहूर्तः

👉 अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 00 मिनट से 12 बजकर 55 मिनट तक रहेगा।।

👉 विजय मुहूर्त दोपहर 14 बजकर 44 मिनट से 15 बजकर 39 मिनट तक रहेगा।

👉 निशिथ काल मध्‍यरात्रि रात में 12 बजकर 07 मिनट से 12 बजकर 48 मिनट तक।

👉 गोधूलि बेला शाम 19 बजकर 17 मिनट से 19 बजकर 37 मिनट तक।

👉 अमृत काल सुबह 05 बजकर 37 मिनट से 07 बजकर 20 मिनट तक।

👉 ब्रह्म मुहूर्त अगले दिन सुबह 04 बजकर 15 मिनट से 04 बजकर 55 मिनट तक।

आज का अशुभ मुहूर्तः

👉 राहुकाल सुबह 07 बजकर 20 मिनट से 09 बजकर 02 मिनट तक।

👉 गुलिक काल दोपहर में 14 बजकर 10 मिनट से 15 बजकर 53 मिनट तक

👉 यमगंड सुबह में 10 बजकर 45 मिनट से 12 बजकर 27 मिनट तक

👉 दुर्मुहूर्त काल दोपहर में 12 बजकर 55 मिनट से 13 बजकर 50 मिनट तक, इसके बाद दोपहर में 15 बजकर 39 मिनट से 16 बजकर 34 मिनट तक।

👉 वर्ज्यम काल अगले दिन सुबह 04 बजकर 00 मिनट से 05 बजकर 28 मिनट तक।

🙏🏼🙏🏼आपका दिन मंगलमय हो🙏🏼🙏🏼

कृप्या अपने प्रश्न साझा करे, हम सदैव तत्पर रहते है आपके प्रश्नो के उत्तर देने के लिया, शास्त्री जी से प्रश्न पूछने के लिया हमे ईमेल करे sanskar@hindusanskar.org संस्कार और आप, जीवन शैली है अच्छे समाज की, धन्यवाद्

 
Shastri ji Deen Dayal Diwedi ji Maharaj

पंडित डी डी द्विवेदी is adept at communicating with the young generation to explain all the pujas both spiritually and scientifically.

 

He is the best in conducting and performing Pujas in all Indian traditions and languages such as Wedding, Gruha Pravesham, Vastu Shanti, various types of Homam/Havan, Puja, Abhishekam and other special ceremonies.

 

He has taken a leading role in performing Prana Pratishtha, Kumbhabhishekam, Maharudram and Special Yajnas at Temples and organizations in India,

A scholar of Veda-Purana and expert in Vedic knowledge and vedic astrology, helping many around the world, to reach him please message us at sanskar@hindusanskar.org, we would be happy to help you.

bottom of page