भारत में सूर्य ग्रहण का समय और प्रभाव ?

👉 जरूरी सूचना - दिनांक 21 जून 2020 ई. संवत 2077 आषाढ़ कृष्ण 30 रविवासरे मृगशिरा नक्षत्र मिथुन राशि भारत मैं खंडग्रास सूर्य ग्रहण होगा भारत में समय ⤵️


👉 स्पर्श - दिन में 10:31 पर

👉 माध्य - दिन में 12:18

👉 मोक्ष - दिन में 02:04

👉 पूर्ण पर्व काल - 3 घंटे 33 मिनट

सूर्य ग्रहण का समय और राशि प्रभाव

👉 इस ग्रहण का सूतक ( वेध ) - दिनांक 20 जून 2020 दिन शनिवार रात्रि 10:31 से लगेगा, किंतु बालक और वृद्ध रोगी को एक पहर पूर्व अर्थात सुबह 7:31 से सूतक मानना चाहिए!


👉 सूतक वेद व ग्रहण समय में मूर्ति स्पर्श भोजन शयन आदि भी नहीं करना चाहिए,


👉 यह ग्रहण मृगशिरा नक्षत्र मिथुन राशि पर हो रहा है अतः मिथुन राशि वालों के लिए विशेष अनिष्ट कारी रहेगा,

👉 कर्क, मीन एवं वृश्चिक राशि वालों को अशुभ, तथा

👉 वृषभ, तुला, कुंभ एवं धनु राशि वालों को मध्यम, तथा

👉 मेष, सिंह, कन्या व मकर राशि वालों को शुभ फल कारक रहेगा,


जिन जिन राशि वालों को अनिष्ट, अशुभ तथा मध्यम फल लिखा है उनको ग्रहण नहीं देखना चाहिए!


किस राशि पर कैसा प्रभाव रहेगा जानिए शास्त्री जी डी डी दिवेदी जी से, आप अपने प्रश्न हमे साझा कर सकते है इस ईमेल पर sanskar@hindusanskar.org, हमे प्रसन्ता होगी आपको मार्गदर्शन देने में , संस्कारआपके जीवन में सध्भाव और शांति का सञ्चालन करते है

21 views0 comments