Purnima Days

Purnima Vrat and dates

शुक्ल पक्ष में 15 वीं तिथि पूर्णिमा होती है और कृष्ण पक्ष में 30 वीं तिथि अमावस्या का प्रतीक है।

 

इसमें फाल्गुन पूर्णिमा ,बौद्ध पूर्णिमा,गुरु पूर्णिमा, शरद पूर्णिमा और कार्तिक पूर्णिमा भी शामिल है। 

साल की 12 पूर्णिमा का अपना महत्व है। इन तिथियों पर वेद व्यास, गौतम बुद्ध जैसे महात्माओं का जन्म भी हुआ है।

सभी पू​र्णिमा तिथियां व्रत एवं स्नान-दान के लिए महत्वपूर्ण होती हैं. पूर्णिमा के दिन माता लक्ष्मी, भगवान शिव, चंद्रमा और भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान है. चंद्र दोष को दूर करने के लिए भी ज्योतिष उपाय किए जाते हैं.

  • 17 जनवरी, दिन: सोमवार: पौष पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 03.18 am, समापन- 05.17 am,18 जनवरी

  • 16 फरवरी, दिन: बुधवार: माघ पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 21.42 am, समापन- 22.55pm, 16 फरवरी

  • 17 मार्च, दिन: गुरुवार: फाल्गुन पूर्णिमा, तिथि का आरंभ-13.39 pm, समापन-12 .46 pm ,18 मार्च

  • 16 अप्रैल, दिन: शनिवार: चैत्र पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 02.25 am 15 अप्रैल, समापन- रात 12.47 am, 17 अप्रैल

  • 15 मई, दिन: रविवार: वैशाख पूर्णिमा, तिथि का आरंभ-12.45 pm 15 मई, समापन-09.43 am, 16 मई

  • 14 जून, दिन: मंगलवार: ज्येष्ठ पूर्णिमा, तिथि का आरंभ-3.33 am, समापन- रात 12 .09

  • 13 जुलाई, दिन: बुधवार: आषाढ़ पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 21:02 pm,12 जुलाई, समापन-7:21 am, 13 जुलाई

  • 11 अगस्त, दिन: गुरुवार: श्रावण पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 10:38 am,11 अगस्त, समापन-07:05 am ,12 अगस्त

  • 10 सितंबर, दिन: शनिवार: भाद्रपद पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 18:07pm ,9 सितम्बर, समापन-15:28 pm, 10 सितम्बर

  • 09 अक्टूबर, दिन: रविवार: आश्विन पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 03:41, 9 अक्टूबर, समापन-02:24 , 10 अक्टूबर

  • 08 नवंबर, दिन: मंगलवार: कार्तिक पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 16:15 pm, 7 नवंबर, समापन- 16:31 pm, 8 नवंबर

  • 07 दिसंबर, दिन: बुधवार: मार्गशीर्ष पूर्णिमा, तिथि का आरंभ- 08:01am, 7 दिसंबर, समापन- 09:37am , 8 दिसंबर