हनुमान जी को बजरंगबली क्यों कहा जाता है?

एक बार जिज्ञासु हनुमान जी ने सीता माता को सिंदूर लगाते हुए देखा तो वे हैरान रह गए। हनुमान जी ने सीता माता से पूछा कि आप इस सिंदूर को अपने माथे पर क्यों लगाती हैं?


उनकी जिज्ञासा से प्रसन्न होकर, सीता माता ने उत्तर दिया कि उन्होने भगवान श्री राम के लंबे जीवन के लिए इस सिंदूर का उपयोग किया है।


यह सुनकर हनुमान जी ने भी अपने पूरे शरीर पर सिंदूर लगा लिया। हनुमान जी को देखकर श्रीराम जोर-जोर से हंसने लगे। उन्होंने हनुमान जी को पास बुलाया और कहा कि मैं आपके प्यार और भक्ति से खुश हूं और इसलिए लोग आपको बजरंग बली के नाम से जानते हैं।

why Hanumanji is called Bajrangbali

बजरंगबली शब्द में, बजरंग का अर्थ नारंगी होता है और बली का अर्थ बलशाली होता है।


संस्कार क्रिया से शरीर, मन और आत्मा मे समन्वय और चेतना होती है, कृप्या अपने प्रश्न साझा करे, हम सदैव तत्पर रहते है आपके प्रश्नो के उत्तर देने के लिया, प्रश्न पूछने के लिया हमे ईमेल करे sanskar@hindusanskar.org संस्कार और आप, जीवन शैली है अच्छे समाज की, धन्यवाद् 

32 views0 comments