top of page

Shree Badrinath Dham, divine presence in snow

चार धाम का अर्थ है यानि चार धार्मिक स्थल। चार धाम एक सामूहिक शब्द है जो बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के पवित्र हिंदू तीर्थस्थलों को करता है।


यह हिंदुओं द्वारा अपने पापों से छुटकारा पाने और मानव जीवन के अंतिम लक्ष्य - मोक्ष, यानी इस दुनिया में जन्म और मृत्यु के चक्र से मुक्ति का मार्ग प्रशस्त करने के लिए सबसे पवित्र धार्मिक स्थलों के रूप में माना जाता है।

बद्रीनाथ धाम, बाबा का अलौकिक स्थान, ऐसा कहा जाता है की बाबा यहाँ साक्षात् स्थ्तित है और अपना आशीर्वाद इस सृष्टि को सदैव बनाये रहते है, शिशिर ऋतू में बद्रीविशाल जी का एक दिव्या रूप और अटूट शांति की स्थापना रहती है


संस्कार क्रिया से शरीर, मन और आत्मा मे समन्वय और चेतना होती है, कृप्या अपने प्रश्न साझा करे, हम सदैव तत्पर रहते है आपके प्रश्नो के उत्तर देने के लिया, प्रश्न पूछने के लिया हमे ईमेल करे sanskar@hindusanskar.org संस्कार और आप, जीवन शैली है अच्छे समाज की, धन्यवाद् 

2 views0 comments
bottom of page